नया बिजनेस शुरू करने के लिए लोन

| |

बिजनेस एक ऐसी चीज है, जिसमे जितना शहद डाला जाता है वह उतना ही मीठा होता जाता है यानी जितना पैसा इन्वेस्ट किया जायेगा उतना ही अधिक रिटर्न आने की संभवना बनी रहती है। नया बिजनेस शुरु करने में दो चीजें सबसे अधिक महत्वपूर्ण होती हैं- बिजनेस आइडिया और पर्याप्त धन अगर इनमें से किसी की कमी हुई तो बिजनेस का सफल होना जरा कठिन हो जाता है। 

हालांकि बिजनेस आइडिया बेहतरीन है तो बिजनेस शुरु करने के लिए पैसों का इंतजाम करना अधिक कठिन कार्य नहीं होता है। क्योंकि, आज के दौर में कई सरकारी योजना, बैंक और एनबीएफसी से नया बिजनेस शुरु करने के लिए लोन मिलता है।  

बिजनेस लोन लेकर नया बिजनेस शुरु करना  

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि बिजनेस चलाने के लिए पैसों की जरूरत पड़ती है बिना पैसों के बिजनेस चलाना मुश्किल हो जाता है। ऐसे में बिजनेस लोन लेकर नया बिजनेस स्टार्ट करना ठीक है। इसे किसी भी तरह से नकारात्मक नहीं कहा सकता है। केन्द्र सरकार का भी प्रयास है कि अधिक से अधिक लोग स्वरोजगार को अपनाएं। 

इसके लिए सरकार की तरह से कई बिजनेस योजना चलाई जा रही हैं। प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना एक ऐसी ही योजना है, जिसमे नया बिजनेस शुरु करने के लिए लोन मिलता है। इसी के साथ मुद्रा लोन योजना में पहले से स्थापित कारोबार का विस्तार करने के लिए भी बिजनेस लोन मिलता है। 

नया बिजनेस शुरु करने के लिए मुद्रा लोन

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन के तहत 3 कैटेगरी में 10 लाख तक का बिजनेस लोन बिना कुछ गिरवी रखे दिया जाता है। मुद्रा लोन 3 कैटेगरी निम्न है: 

  1. शिशु लोन – 50 हजार तक का बिजनेस लोन। 
  2. किशोर लोन – 50 हजार से 5 लाख तक का बिजनेस लोन 
  3. तरुण लोन – 5 लाख से 10 लाख तक का बिजनेस लोन 

मुद्रा लोन कृषि कार्य को छोड़कर सभी एमएसएमई उद्योग (MSME) के लिए प्रदान किया जाता है। निम्नलिखित सेक्टर में नया बिजनेस शुरु करने के लिए मुद्रा लोन मिलता है- 

  • प्रोपराइटरशिप फर्म के तहत नया बिजनेस शुरु करना 
  • पार्टनरशिप फर्म के तहत नया बिजनेस शुरु करना 
  • छोटी मैन्युफैक्चरिंग यूनिट लगाना 
  • सर्विस सेक्टर में नया बिजनेस शुरु करना 
  • नई दुकान खोलना  
  • फल-सब्जी की दुकान खोलना 
  • ट्रक/कार खरीदकर ड्राईविंग कार्य के लिए  
  • छोटा होटल शुरु करने के लिए  
  • रिपेयर शॉप खोलने के लिए 
  • मशीन ऑपरेटर का काम करने के लिए 
  • छोटे उद्योग लगाने के लिए 
  • फ़ूड प्रोसेसिंग यूनिट स्थापित करने के लिए 
  • ग्रामीण एवं शहरी इलाके का कोई अन्य ग्रामोद्योग स्थापित करने के लिए 

मुद्रा लोन की पात्रता की पात्रता क्या है? 

  • आवेदनकर्ता की नागरिकता भारतीय होना चाहिए 
  • मुद्रा लोन का उपयोग गैर-कृषि कारोबार के लिए किया जाना हो।  
  • जिस भी कारोबार के लिए मुद्रा लोन लेना हो, वह कॉरपोरेट संस्था नहीं होनी चाहिए। 
  • बिजनेसमैन के पास मुद्रा लोन का उपयोग करने का प्रोजेक्ट तैयार हो। 

इस तरह देखें तो मुद्रा लोन (Mudra Loan) लेकर नया बिजनेस लोन शुरु किया जा सकता है। इसके साथ ही कई राष्ट्रीयकृत या प्राइवेट बबैंक हैं जहां से स्वतंत्र रुप से नया बिजनेस शुरु करने के लिए लोन मिलता है। 

स्टैंड-अप इंडिया योजना के तहत नये बिजनेस के लिए लोन 

भारत सरकार के तरफ से स्टैंड-अप इंडिया योजना की शुरुआत 2016 में हुई है। इस योजना का संचालन लघु उद्योग विकास बैंक (सिडबी) के द्वारा किया जा रहा है। इस योजना में नया बिजनेस शुरु करने के लिए लोन प्रदान किया जाता है। स्टैंड-अप इंडिया योजना की खास बात यह है कि इस योजना से मिले लोन पर सब्सिडी भी मिलती है।

स्टैंड-अप इंडिया योजना से 10 लाख रुपये से लेकर 1 करोड़ रुपये तक का लोन मिलता है। इस योजना के तहत मिले लोन को 7 साल की अवधि में लौटाना होता है, इसी के साथ 18 माह का मोरेटोरियम समय भी मिलता है। यानी लोन लेने के बाद 18 माह तक लोन की इएमआई जमा नहीं करना होता, 18 माह के बाद लोन की किश्ते जमा करना होता है। स्टैंड-अप लोन पर ब्याज दर वाजिब होती है। 

स्टैंड-अप इंडिया से लोन की पात्रता 

इस योजना के तहत जिन लोगों को लोन मिलता है, वह निम्न हैं- 

  • लोन के लिए आवेदन करने वाले आवेदनकर्ता की उम्र 18 साल से अधिक होना चाहिए। 
  • एससी/एसटी या महिला कारोबारी ही इस योजना का फायदा उठा सकते हैं 
  • ग्रीन फील्‍ड प्रोजेक्‍ट के तहत नया बिजनेस शुरु किया जाना हो। 
  • आवेदनकर्ता का किसी भी बैंकिंग या वित्तीय संस्थान से डिफॉल्‍टर नहीं होना चाहिए 

स्टैंड-अप इंडिया लोन किसे मिलता है? 

  • नया बिजनेस शुरु करने वाले लोग
  • नई मैन्यूफैक्चरिंग यूनिट लगाने वाले लोग
  • सर्विस सेक्टर में नया बिजनेस शुरु करने वाले लोग
  • पार्टनरशिप में बिजनेस शुरु करने वाले लोग
  • ट्रेडिंग से संबंधित बिजनेस शुरु करने वाले लोगों को

स्टैंड-अप लोन के लिए जरुरी कागजात 

निम्नलिखित कागजातों की आवश्यकता होती है- 

  • फोटो 
  • पहचान पत्र (इनमें से कोई एक- आधार कार्डपैन कार्डवोटर आईडी कार्ड, ड्राइविंग लाईसेंस, पासपोर्ट इत्‍यादि) 
  • पता प्रमाण पत्र इनमें से कोई एक- आधार कार्डपैन कार्डवोटर आईडी कार्ड, ड्राइविंग लाईसेंस, पासपोर्ट इत्‍यादि) 
  • पैन कार्ड 
  • बैंक स्टेटमेंट या पासबूक 
  • बिजनेस शुरु करने संबंधित प्रमाण पत्र और बिजनेस पता प्रमाण पत्र 
  • फाइल की गई आईटीआर की कॉपी 
  • बिजनेस प्रोजेक्ट रिपोर्ट 
  • बिजनेस प्लेस का मालिकाना प्रूफ (अगर खुद का है तो) 
  • बिजनेस की जगह अगर किराये की है तो रेंट एग्रीमेंट की कॉपी 

नया बिजनेस शुरु करने के लिए बैंक से लोन 

सरकारी योजनाओं के अतिरिक्त भी नया बिजनेस शुरु करने के लिए लोन मिलता है। यह लोन सरकारी और प्राइवेट बैंको के साथ ही नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनियां (एनबीएफसी) के द्वारा मिलता है। यहां कुछ बैंक के बारें में बताते हैं, जिनसे नया बिजनेस शुरु करने के लिए लोन मिलता है- 

  • स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) 
  • बैंक ऑफ बदौड़ा  
  • यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (यूबीआई) 
  • पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) 

इस तरह से आप देखते हैं कि नया बिजनेस शुरु करने के लिए कहां  कहां से आपको लोन मिल सकता है। इसी के साथ आपको जानकारी के लिए बता दें कि देश की प्रमुख एनबीएफसी ZipLoan से बिजनेस का विस्तार करने के लिए 7.5 लाख रुपये तक का बिजनेस लोन सिर्फ 3 दिन* में मिलता है। यहां से मिलने वाला बिजनेस लोन बिना कुछ गिरवी होता है और 6 माह बाद फोर-क्लोजर चार्जेस फ्री होता है। 

सवाल -जबाब 

 

ALSO READ  वर्किंग कैपिटल का बिजनेस मे योगदान जानिए

नई बिजनेस के लिए लोन कैसे ले?

अगर आप भी किसी बैंक से बिजनेस लोन लेना चाहते हैं तो जानिए उसका प्रोसेस क्या है.

विस्तृत बिजनेस प्लान (Detailed business plan) बनाएं.
आप जिस बैंक से कर्ज लेना चाहते हैं, उसे अपना बिजनेस प्लान बताएं.
इसके बाद यह तय करें कि आपको कितना लोन चाहिए.
अपने क्रेडिट स्कोर के बारे में पता करें.

बिजनेस लोन के लिए क्या डॉक्यूमेंट चाहिए?


बिजनेस लोन के लिए जरूरी डॉक्यूमेंट्स-

पैन कार्ड– कंपनी/फर्म/व्यक्ति का
नीचे दिए गए डॉक्यूमेंट में से किसी एक की कॉपी
आधार कार्ड
पासपोर्ट
वोटर आईडी कार्ड
पैन कार्ड
ड्राइविंग लाइसेंस
पिछले छह महीन का बैंक स्टेटमेंट

बिजनेस लोन कितने प्रकार का होता है?

लोन को दो भागों में विभाजित किया जाता है, असुरक्षित बिज़नेस लोन (Unsecured Business Loan) और सुरक्षित बिज़नेस लोन (Secured Business Loan).

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना में कितना लोन मिलता है?

कोई भी भारतीय नागरिक जो अपना कारोबार शुरू करना चाहता है, वह PMMY के तहत लोन ले सकता है. अगर आप मौजूदा कारोबार को आगे बढ़ाना चाहते हैं और उसके लिए पैसे की जरूरत है तो आप प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत 10 लाख रुपये तक के लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं. यह योजना अप्रैल 2015 में शुरू हुई थी

आधार कार्ड पर कितना लोन ले सकते हैं?

आपको बता दे कि ऑनलाइन aadhar card se loan लेना काफी आसान है। आवेदनकर्ता अपने आधार के माध्यम से 1 लाख रूपये तक का लोन प्राप्त कर सकता है|

बिना गारंटी के लोन कैसे मिलता है?

मुद्रा योजना के तहत बिना गारंटी के लोन मिलता है। इसके अलावा लोन के लिए कोई प्रोसेसिंग चार्ज भी नहीं लिया जाता है। मुद्रा योजना में लोन चुकाने की अवधि को 5 साल तक बढ़ाया जा सकता है। लोन लेने वाले को एक मुद्रा कार्ड मिलता है, जिसकी मदद से कारोबारी जरूरत पर आने वाला खर्च किया जा सकता है।

ALSO READ  कॉमर्शियल लोन का क्या अर्थ है और व्यवसाय इसका कैसे लाभ उठा सकते हैं? जानिए
Previous

बिजनेस लोन की आवश्यकता क्यों है? जानिए कहां होता है उपयोग

श्री हनुमान चालीसा

Next
0 Shares
Tweet
Share
Share
Pin